मैनेजमेंट लेसन………. एक दिन एक कुत्ता जंगल में रास्ता खो गया..

मैनेजमेंट लेसन……….

एक दिन एक कुत्ता जंगल में रास्ता खो गया..

तभी उसने देखा, एक शेर उसकी तरफ आ रहा है..।
कुत्ते की सांस रूक गयी..

“आज तो काम तमाम मेरा..!” उसने सोचा..

MBA ka lesson yaad aa gaya aur

फिर उसने सामने कुछ सूखी हड्डियाँ पड़ी देखि.. वो आते हुए शेर की तरफ पीठ कर के बैठ गया और एक सूखी हड्डी को चूसने लगा..

और जोर जोर से बोलने लगा,

“वाह ! शेर को खाने का मज़ा ही कुछ और है.. एक और मिल जाए तो पूरी दावत हो जायेगी !”

और उसने जोर से डकार मारा.. इस बार शेर सोच में पड़ गया..

उसने सोचा- “ये कुत्ता तो शेर का शिकार करता है ! जान बचा कर भागो !”

और शेर वहां से जान बचा के भागा..

पेड़ पर बैठा एक बन्दर यह सब तमाशा देख रहा था..

उसने सोचा यह मौका अच्छा है शेर को सारी कहानी बता देता
हूँ ..

शेर से दोस्ती हो जायेगी और उससे ज़िन्दगी भर के लिए जान का खतरा दूर हो जायेगा..

वो फटाफट शेर के पीछे भागा..

कुत्ते ने बन्दर को जाते हुए देख लिया और समझ गया की कोई लोचा है..

उधर बन्दर ने शेर को सब बता दिया की कैसे कुत्ते ने उसे बेवकूफ बनाया है..

शेर जोर से दहाडा, -“चल मेरे साथ, अभी उसकी लीला ख़तम करता हूँ”.. और बन्दर को अपनी पीठ पर बैठा कर शेर कुत्ते की तरफ लपका..

Can you imagine the quick “management” by the DOG…???

कुत्ते ने शेर को आते देखा तो एक बार को उसके आगे जान का संकट आ गया मगर फिर हिम्मत कर कुत्ता उसकी तरफ पीठ करके बैठ गया l

Another lesson of MBA applied aur जोर जोर से बोलने लगा,-

“इस बन्दर को भेजे 1 घंटा हो गया.. साला एक शेर को फंसा कर नहीं ला सकता !”

यह सुनते ही शेर ने बंदर को पटका और वापस भाग गया ।’

Moral of the story:

There are many such monkeys around us, try to identify them..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *