Categories
Comedy Jokes

31 December hindi jokes

एक बार इंद्र भगवान ने गुस्से मे आकर सभी को श्राप दे दिया कि 12 साल वो बरसात नही करेंगे जिससे लोग पानी को तरसेंगे…

लोगो मे हाहाकार मच गया
बडे बडे देवो ने समझाया पर इंद्र भगवान नही माने….

बारिश का महीना आया , इंद्रदेव ने बारिश नही की
पर एक किसान अपने बच्चो के साथ खेत मे गया और खेती के वो सभी काम करने लगा जो बरसात से पहले किये जाते है साथ मे वो अपने बच्चो को भी समझा रहा था के काम कैसे किया जाये…

इंद्रदेव को देख कर बहुत आश्चर्य हुआ कि 12 साल तक पानी नही बरसेगा फिर भी ये काम क्यूं कर रहा है ????

इंद्रदेव ब्राह्मण का रूप धर के उसके पास गये और कहा , हे किसान क्या तूमने श्रापित आकाशवाणी नही सुनी कि12 साल बरसात नही होगी??? फिर क्यू खेत जोत रहे हो???

किसान ने कहा सुनी थी ब्राह्मणदेवता

पर अगर मै और मेंरे बेटे 12 साल काम नही करेंगे तो हम भूल जायेगे कि खेती कैसे करते है फिर बारिश होगी तो भूखो मर जायेंगे इसलिये हम खेती कर रहे है….

इंद्रदेव की आंखे खुल गई
वो सोचने लगे 12 साल मे तो शायद मैं भी बारिश गिराने का कौशल भूल जाउंगा……

उन्होने तुरंत श्राप वापस लिया और बारिश करवा दी…

मोरल:- इस कहानी से हमे ये सीख मिलती है कि …
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
हमें कितनी भी कडकी लगी हो या पैसे की तंगी हो ..

31 दिसंबर तो मनाना ही चाहिये.. नही तो जिस दिन पैसे आयेंगे हम पार्टी करना भूल गये होंगे…..

इतनी देर सब्र से पढने के लिये धन्यवाद
???????????