Ek Kisan Ki Shadi Hui Aur Suhagrat Ki Night!

एक किसान की शादी हुई।
सुहागरात के दिन।
.
.
.
उसने अपनी पत्नी के पेट पर प्यार से हाथ फेरता हुआ बोला- ये मेरी जमीन है इसमें मैं आलू बोऊंगा। और सो गया।
.
.
.
.
अगली रात फिर पीठ पर प्यार से हाथ फेरता रहा और बोला – ये भी मेरी जमीन है इसमें मैं प्याज बोऊंगा। और सो गया।
.
.
.
.
.

तीसरी रात वो बीवी पर हाथ रखा ही था कि…….
.
.
.
.
.
.
पत्नी बोली- सुन चूतिये। अगर आज तूने मेरे अंदर मूली नहीं बोई तो मैं कल ये तेरी सारी जमीन किसी और को भाड़े पर दे दूँगी ।
ये ????%नया हैं…..!!

Leave a Comment