Fight Between Whatsapp Group Admin and Group Member!!!

Admin : काशिनाथ हमें खुशी हुइ तुम्हारे msg पढ़कर तुमे भी खुशी होगी ये जानकर के आज के बाद तुम हमारे गृप मे काम करोगे.

काशिनाथ : ये मजदूर का msg हे admin.

msg भेज कर पढणे वाले कंफ्युज कर देता है हमारा गृप खुन पसीने से बनाया हुआ हैं, मुझे किसी के गृप मे रहने कि जरूरत नहीं.

Admin : किडे मकोडे कि तरह छोटे गृप मे रहने से बेहतर है हमारे गृप मे रहो शेर कि तरह.

काशिनाथ : तुम्हारे गृप मे आकर शेर भी कुत्ता बन जाता हैं admin.

तु चाहता है के मे तेरे गृप मे कुत्ता बनकर रहु, तु कहे तो msg पढु तु कहे तो msg भेजु.

Admin : ऐसा हि समजो तो क्या हमारे गृप मे काम करोगे तो नाम होगा तुम्हारा ईनाम मिलेगा रूपै पैसे मिलेगा इज्जत होगी तुम्हारी ओर दुसरे गृप वाले डरेंगे तुमसे.

काशिनाथ : गृप वालों को डराकर वो गृप चलाता है जिसके हड्डियों मैं पानी भरा होता है admin बनने का इतना शौक हे तो कुत्तों का सहारा लेना छौड दे admin.

Admin : इसको गृप मे कैसे लाना हे ऐ सोचना पड़ेगा.

Leave a Comment