नहीं तो घरवाली काम करा करा कर कमर तोड़ देती।

मेरे एक पड़ोसी गुप्ता जी,
बहुत दिनो से दिखे नहीं तो आज मैं उनके घर चला गया।

देखा तो पैर में उनके प्लास्टर चड़ा हुआ था। उसे देखकर मैंने पूछा कि यह कब हो गया, कहाँ गिर गये ?

तो उन्होंने रहस्यमयी मुस्कान के साथ धीरे से जवाब दिया
टेन्शन मत लो
मुझे कुछ नहीं हुआ है।

21 दिन लॉक डाउन में कहीं जाना तो था नहीं । इसलिए ऑफ़िस से आते वक्त पैर में प्लास्टर चढ़वा लिया 21 दिन का।

नहीं तो घरवाली काम करा करा कर कमर तोड़ देती।
😆😆😂😂🤣🤣🤣🤣🤣