Kavi Ki Wife Jokes

हवा की लहर बनकर
तू मेरी खिड़की न खट खटा…

मैं बन्द दरवाजे में तूफान
समेटे बैठा हूँ….!!!!

भावार्थ :– इस कविता में कवि अपनी गर्ल फ्रेंड को संकेत दे रहे है कि वो अपनी पत्नी के साथ बैठे है, कृपया मिस कॉल ना दे..