Mohabbatein kar ke Insan ko Dekh Liya!!!

हमारे इश्क का अंदाज कुछ अजीब सा था दोस्तों,लोग इन्सान देखकर मोहब्बत करते है,

हमनें मोहब्बत करके इन्सान देख लिया ..


मच्छर ने आपको काटा ये उसका जुनून था,
मच्छर ने आपको काटा ये उसका जुनून था,

फिर आपने वहाँ खुजाया ये आपका सुकून था,

चाह कर भी आप उसे मार नहीं पाये,

ग़ौर फ़रमाइये हुज़ूर चाह कर भी आप उसे मार नहीं पाये,

क्योंकि उसकी रगों में आप ही का ख़ून था।.


कुछ लोग कहते है की बदल गया हूँ मैं,

उनको ये नहीं पता की संभल गया हूँ मैं,

उदासी आज भी मेरे चेहरे से झलकती है,

पर

अब दर्द में भी मुस्कुराना सीख गया हूँ मैं|.

Leave a Comment