नाकाम इश्क़ और मुकम्मल इश्क़ में क्या फर्क होता है ?

उर्दू के शायर ने सवाल पूछा-

नाकाम इश्क़ और मुकम्मल इश्क़ में क्या फर्क होता है ?

संता ने जवाब दिया:

नाकाम इश्क बेहतरीन शायरी करता है,

ग़ज़ल गाता है,

पहाड़ों में घूमता है,

उम्दा शराब पीता है.

मुकम्मल इश्क सब्ज़ी के साथ मुफ्त में धनिया कैसे मिले,

रास्ते से ब्रेड लाने,

और दाल में नमक ज़्यादा/कम के फेर में दम तोड़ देता है!

😜

😂👏🏼👏🏼🤣🤣🤣